यूं पा सकते हैं आप घर पर ही डॉक्टरी देखभाल Reviewed by Momizat on . डॉं. गौरव ठकराल अगर आप घर पर डॉक्टरी देखभाल की चाह रखते हैं तो अब आपकी ये चाह पूरी हो सकती है। बता रहे हैं हेल्थकेयर एट होम मेडिकल सर्विसेज विभाग के अध्यक्ष डॉं डॉं. गौरव ठकराल अगर आप घर पर डॉक्टरी देखभाल की चाह रखते हैं तो अब आपकी ये चाह पूरी हो सकती है। बता रहे हैं हेल्थकेयर एट होम मेडिकल सर्विसेज विभाग के अध्यक्ष डॉं Rating: 0
You Are Here: Home » Reviews » यूं पा सकते हैं आप घर पर ही डॉक्टरी देखभाल

यूं पा सकते हैं आप घर पर ही डॉक्टरी देखभाल

यूं पा सकते हैं आप घर पर ही डॉक्टरी देखभाल

डॉं. गौरव ठकराल

अगर आप घर पर डॉक्टरी देखभाल की चाह रखते हैं तो अब आपकी ये चाह पूरी हो सकती है। बता रहे हैं हेल्थकेयर एट होम मेडिकल सर्विसेज विभाग के अध्यक्ष डॉं. गौरव ठकराल ।

सेवानिवृत्त हो चुके नौकरशाह राकेश के एकमात्र पुत्र अमेरिका में रहते हैं। अपनी मां की बीमारी के बारे में खबर मिलने पर वह भारत आए, लेकिन जरूरी कार्य के सिलसिले में उन्हें एक हफ्ते के अंदर अमेरिका लौटना पड़ा। लिहाजा राकेश के लिए अकेले इन सभी परिस्थितियों से निपटना काफी मुश्किल हो गया।

राकेश सोचने लगे कि काश, कीमोथेरेपी की वजह से होने वाली इतनी परेशानी से वह अपनी पत्नी को छुटकारा दिला पाते। उनकी यह भी इच्छा थी कि कोई उनकी पत्नी को इस रोग से निजात दिलाने के लिए जरूरी भावनात्मक सहानुभूति और परामर्श देने वाला मिल जाए। उनकी पत्नी का इलाज करने वाले डॉंक्टर ने उन्हें यह कहकर चकित कर दिया कि इस तरह की सुविधाएं हेल्थकेयर एट होम (एचसीएएच) द्वारा उपलब्ध कराई जा रही हैं, जो आपके घर पर ही सुविधाजनक तरीके से समस्त उपचार एवं देखभाल के विकल्प मुहैया कराती है। राकेश ने एचसीएएच की सेवाएं प्राप्त कीं।

किनके लिए फायदेमंद

इस तरह की सुविधाओं की उपलब्धता उन लोगों के लिए वरदान साबित हो सकती है, जिनके परिजन कई हफ्तों-महीनों से सघन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती हैं। यह सुविधा उन लोगों के लिए भी वरदान है, जो बड़ी सर्जरी कराने के बाद अस्पताल का चक्कर लगाने से बचना चाहते हैं और अपने परिजनों के साथ घर पर ही रहना चाहते हैं। जो लोग घर पर ही अपने बुजुर्गों की बेहतर देखभाल सुनिश्चित करना चाहते हैं, अस्पताल के भारी-भरकम बिल से छुटकारा पाना चाहते हैं और इलाज के लिए किसी सस्ते उपाय की तलाश करते हैं, उन सबके लिए यह सुविधा कारगर साबित हो सकती है।

क्यों है बेहतर

लोग कई कारणों से अस्पताल की देखभाल सुविधा के बजाय घर पर ही मरीज की देखभाल कराना चाहते हैं। इनमें से एक कारण मानसिक शांति भी है। घर पर रहने का अहसास भर ही सुकूनदायी होता है और इस वजह से मरीज को जल्दी स्वास्थ्य लाभ मिलता है। घर पर चिकित्सा सुविधाओं के कारण मरीजों और उनके परिजनों को नियमित जांच कराने या किसी इलाज के सिलसिले में अस्पताल जाने के कष्टदायी सफर से भी छुटकारा मिलता है। इससे मरीज को लगातार चिकित्सा जरूरत और निगरानी भी मिलती रहती है और परिजनों को बार-बार डॉक्टरों से गुहार भी नहीं लगानी पड़ती है।

होमकेयर की मदद से दी जाने वाली व्यक्तिगत चिकित्सा सुविधा प्रत्येक मरीज की खास जरूरतों को पूरा करती है। अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ करने के बजाय घर पर स्वास्थ्य लाभ की सुविधाएं किफायती होती हैं, क्योंकि इसमें परोक्ष खर्च नहीं होते। ऐसी सुविधाओं की बदौलत परिजन सामान्य दिनचर्या बहाल कर सकते हैं और प्रियजन की देखभाल का जिम्मा विश्वस्त हाथों में देकर निश्चिंत हो सकते हैं।

इसकी विश्वसनीयता

हेल्थकेयर एट होम का मुख्य आधार इसके अत्यधिक कुशल एवं पंजीकृत हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स ही हैं। कंपनी कर्मचारियों की पृष्ठभूमि की पड़ताल के बाद ही उन्हें नियुक्त करती है। नर्सों के प्रशिक्षण के दौरान उन पर कई प्रकार की जिम्मेदारियों का बोझ डाला जाता है। एचसीएएच से जुड़ने के बाद सभी नर्सों को छह महीने तक प्रशिक्षण दिया जाता है। चिकित्साकर्मियों को संक्रमण नियंत्रण और जीवनरक्षक प्रणालियों जैसी क्लिनिकल निपुणता से लैस किया जाता है। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद यह परखने के लिए एक क्लिनिकल योग्यता परीक्षा ली जाती है कि चिकित्साकर्मी सर्वश्रेष्ठ दिशा-निर्देश मानकों के अनुरूप अपने कार्य को अंजाम दे पाते हैं या नहीं। नर्सों को आईटी प्रशिक्षण दिया जाता है और उन्हें एक टैबलेट दिया जाता है, ताकि वे इसमें एकत्रित किए गए डाटा को उन डॉंक्टरों तक भेज सकें जो एचसीएएच टीम द्वारा क्लिनिकल परीक्षण के बाद उपयुक्त समय में संबंधित मामलों को देख रहे होते हैं।

दिल्ली में है अच्छी सुविधा

एचसीएएच की फिलहाल दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और चंडीगढ़ में सेवाएं मौजूद हैं। इसकी योजना दो वर्ष के अंदर समस्त भारत में सेवाएं प्रदान करने की है। घर जैसा माहौल कहीं नहीं हो सकता और मरीजों के लिए घर पर रहने का अहसास तो और अच्छा है।
कैंसर के मरीजों के लिए तो वरदान है

जो लोग अस्पताल के आईसीयू से छुटकारा पाने की ख्वाहिश रखते हैं, उनके लिए भी यह कारगर है, क्योंकि एचसीएएच घर पर ही यह सुविधा प्रदान करती है। इसके तहत सर्जरी के बाद की देखभाल, जोड़ प्रत्यारोपण के बाद की देखभाल, घर पर ही क्रिटिकल केयर सेवाएं, कार्डियक सर्जरी के बाद की देखभाल, होम पल्मोनरी केयर, बुजुर्गों की देखभाल और फिजियोथेरेपी की सुविधा आदि शामिल है।

डॉं. ठकराल का संपर्क सूत्र
नम्बर: 8130777979,
ईमेल: gaurav.thukral@hcah.in

About The Author

Number of Entries : 120

Leave a Comment

Copyright © 2014herbal360. All rights reserved.

Scroll to top